Books tagged: hindi stories

The adult filter is active; content marked as adults-only by the author is not listed. To view this content, click the button below to disable the adult filter.

Found 34 results

पूरब और पश्चिम
By
Series: Hindi Books: Novels and Poetry, Book 1 · Novels and Stories, Book 64. Price: $0.99 USD. Words: 2,140. Language: Hindi. Published: August 11, 2012. Category: Fiction » Inspirational
सीटियाँ बजाती हवा रात के अन्धकार के डर को और अधिक कर रही थी. अपने छोटे घरों अन्धेरे घरों में गांव वासी खुमचे हुए थे और छोटे बच्चे अपने सबसे ऊंचे स्वर में रो रहे थे. आप शायद सोच रहे होंगे कि मैं एक रोमान्चकारी या रहस्यमय हत्या कथा लिखने वाला हूँ.
गरीब का नव वर्ष
By
Series: Hindi Books: Novels and Poetry, Book 4 · Novels and Stories, Book 67. Price: $1.25 USD. Words: 3,880. Language: Hindi. Published: August 8, 2013. Category: Fiction » Literature » Urban
उस मोटी औरत के बाद एक आदमी आया था। रस्सी से बाँधे हुए पांच मुर्गे उस आदमी के दायें हाथ में उल्टे लटक रहे थे। मुर्गे अपनी मृत्यू के आभास से चिल्ला रहे थे।
ओस की एक बूँद
By
Series: Hindi Books: Novels and Poetry, Book 5 · Novels and Stories, Book 68. Price: $1.99 USD. Words: 6,090. Language: Hindi. Published: August 14, 2013. Category: Fiction » Romance » Suspense
उसकी लाश को एक छोटे से सुन्दर लकडी के बक्से में रखा गया था और सभी लोग उस बक्से को बारी बारी से उठाकर एक पंक्ती में बंगलोर शहर के बीचों बीच स्थित कब्रिस्तान की ओर धीरे धीरे जा रहे थे। सभी की आन्खें नम थी।
प्रेरणा कथाएं: भाग एक
By
Series: Hindi Books: Novels and Poetry, Book 8 · Novels and Stories, Book 71. Price: $1.99 USD. Words: 9,830. Language: Hindi. Published: November 23, 2013. Category: Fiction » Cultural & ethnic themes » Asian American
मौखिक कथा वाचन लगभग विश्व के हर राष्ट्र में सदियों से चलता आया है और प्राचीन धार्मिक, नैतिक, और मौलिक कथायें लगभग हर समाज में प्रेरणा के स्रोत के रूप में रही हैं। इस संकलन में प्रस्तुत कथायें भारतीय समाज के अलग अलग समय और वर्गों से ली गयी हैं और प्रत्येक कथा साहित्य का एक अनमोल रत्न है ।
प्रेरणा कथाएं: भाग दो
By
Series: Hindi Books: Novels and Poetry, Book 9 · Novels and Stories, Book 72. Price: $1.99 USD. Words: 8,300. Language: Hindi. Published: November 23, 2013. Category: Fiction » Cultural & ethnic themes » Asian American
मौखिक कथा वाचन लगभग विश्व के हर राष्ट्र में सदियों से चलता आया है और प्राचीन धार्मिक, नैतिक, और मौलिक कथायें लगभग हर समाज में प्रेरणा के स्रोत के रूप में रही हैं। इस संकलन में प्रस्तुत कथायें भारतीय समाज के अलग अलग समय और वर्गों से ली गयी हैं और प्रत्येक कथा साहित्य का एक अनमोल रत्न है ।
Gaban (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 108,000. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
बरसात के दिन हैं, सावन का महीना । आकाश में सुनहरी घटाएँ छाई हुई हैं । रह - रहकर रिमझिम वर्षा होने लगती है । अभी तीसरा पहर है ; पर ऐसा मालूम हों रहा है, शाम हो गयी । आमों के बाग़ में झूला पड़ा हुआ है । लड़कियाँ भी झूल रहीं हैं और उनकी माताएँ भी । दो-चार झूल रहीं हैं, दो चार झुला रही हैं । कोई कजली गाने लगती है, कोई बारहमासा । इस ऋतु में महिलाओं की बाल-स्मृतियाँ भी जाग उठती हैं ।
Karmabhumi (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 129,270. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
हमारे स्कूलों और कॉलेजों में जिस तत्परता से फीस वसूल की जाती है, शायद मालगुजारी भी उतनी सख्ती से नहीं वसूल की जाती। महीने में एक दिन नियत कर दिया जाता है। उस दिन फीस का दाखिला होना अनिवार्य है। या तो फीस दीजिए, या नाम कटवाइए, या जब तक फीस न दाखिल हो, रोज कुछ जुर्माना दीजिए। कहीं-कहीं ऐसा भी नियम है कि उसी दिन फीस दुगुनी कर दी जाती है, और किसी दूसरी तारीख को दुगुनी फीस न दी तो नाम कट जाता है।
Pratigya (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 27,850. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
देवकी - 'जा कर समझाओ-बुझाओ और क्या करोगे। उनसे कहो, भैया, हमारा डोंगा क्यों मझधार में डुबाए देते हो। तुम घर के लड़के हो। तुमसे हमें ऐसी आशा न थी। देखो कहते क्या हैं।' देवकी - 'आखिर क्यों? कोई हरज है?' देवकी ने इस आपत्ति का महत्व नहीं समझा। बोली - 'यह तो कोई बात नहीं आज अगर कमलाप्रसाद मुसलमान हो जाए, तो क्या हम उसके पास आना-जाना छोड़ देंगे? हमसे जहाँ तक हो सकेगा, हम उसे समझाएँगे ...
Srikanta (Hindi)
By
Price: $4.99 USD. Words: 227,470. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
मेरी सारी जिन्दगी घूमने में ही बीती है। इस घुमक्कड़ जीवन के तीसरे पहर में खड़े होकर, उसके एक अध्याापक को सुनाते हुए, आज मुझे न जाने कितनी बातें याद आ रही हैं। यों घूमते-फिरते ही तो मैं बच्चे से बूढ़ा हुआ हूँ। अपने-पराए सभी के मुँह से अपने सम्बन्ध में केवल 'छि:-छि:' सुनते-सुनते मैं अपनी जिन्दगी को एक बड़ी भारी 'छि:-छि:' के सिवाय और कुछ भी नहीं समझ सका।
Prema (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 42,610. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
संध्या का समय है, डूबने वाले सूर्य की सुनहरी किरणें रंगीन शीशो की आड़ से, एक अंग्रेजी ढंग पर सजे हुए कमरे में झॉँक रही हैं जिससे सारा कमरा रंगीन हो रहा है। अंग्रेजी ढ़ंग की मनोहर तसवीरें, जो दीवारों से लटक रहीं है, इस समय रंगीन वस्त्र धारण करके और भी सुंदर मालूम होती है। कमरे के बीचोंबीच एक गोल मेज़ है जिसके चारों तरफ नर्म मखमली गद्दोकी रंगीन कुर्सियॉ बिछी हुई है।