Fiction » Literature » Literary

Manovratti Aur Lanchan (Hindi)
By
Price: $0.99 USD. Words: 6,260. Language: Hindi. Published: July 3, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
मनोवृत्ति एक सुंदर युवती, प्रात:काल, गाँधी-पार्क में बिल्लौर के बेंच पर गहरी नींद में सोयी पायी जाय, यह चौंका देनेवाली बात है। सुंदरियाँ पार्कों में हवा खाने आती हैं, हँसती हैं, दौड़ती हैं, फूल-पौधों से खेलती हैं, किसी का इधर ध्यान नहीं जाता; लेकिन कोई युवती रविश के किनारे वाले बेंच पर बेखबर सोये, यह बिलकुल गैर मामूली बात है, अपनी ओर बल-पूर्वक आकर्षित करने वाली। रविश पर कितने आदमी चहलकदमी कर रहे
Pieces: A Collection of Short Fiction
By
Price: $0.99 USD. Words: 33,020. Language: English. Published: July 3, 2014 by CyberWitch Press. Category: Fiction » Anthologies » Short stories - single author
From an inept witch with a vendetta to a banshee with a drinking problem, this collection of short stories has the right mix of normal and paranormal. "PIECES" features stories previously published in anthologies, as well as some never-before-seen work from this author. Sometimes funny, sometimes eerie, and always with that touch of voice singular to Heather, PIECES will stay with you.
Speaking of Angels
By
Price: $2.99 USD. Words: 5,730. Language: English. Published: July 2, 2014 by DIB Books. Category: Fiction » Literature » Literary
A lonely afternoon stroll brings on many things. Remembrance. Decay. Memory slipped loose. And—in the case of a graveyard—mortality. A story which examines our lives, and those of the departed. Speaking of Angels: A Short Story.
Short Stories: The Social Contract
By
Price: $0.99 USD. Words: 34,750. Language: English. Published: June 30, 2014. Category: Fiction » Literature » Literary
This collection of stories looks at social issues, sometimes humorously, sometimes harshly. The last story is so-placed because of its subject matter and use of profanity.
Anupama Ka Prem (Hindi)
By
Price: $0.99 USD. Words: 2,950. Language: Hindi. Published: June 27, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
ग्यारह वर्ष की आयु से ही अनुपमा उपन्यास पढ़-पढ़कर मष्तिष्क को एकदम बिगाड़ बैठी थी। वह समझती थी, मनुष्य के हृदय में जितना प्रेम, जितनी माधुरी, जितनी शोभा, जितना सौंदर्य, जितनी तृष्णा है, सब छान-बीनकर, साफ कर उसने अपने मष्तिष्क के भीतर जमा कर रखी है। मनुष्य- स्वभाव, मनुष्य-चरित्र, उसका नख दर्पण हो गया है। संसार में उसके लिए सीखने योग्य वस्तु और कोई नही है, सबकुछ जान चुकी है, सब कुछ सीख चुकी है।
Alankar (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 61,460. Language: Hindi. Published: June 27, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
उन दिनों नील नदी के तट पर बहुत से तपस्वी रहा करते थे। दोनों ही किनारों पर कितनी ही झोंपड़ियां थोड़ी थोड़ी दूर पर बनी हुई थीं। तपस्वी लोग इन्हीं में एकान्तवास करते थे और जरूरत पड़ने पर एक दूसरे की सहायता करते थे। इन्हीं झोंपड़ियों के बीच में जहां तहां गिरजे बने हुए थे। परायः सभी गिरजाघरों पर सलीब का आकार दिखाई देता था। धमोर्त्सवों पर साधु सन्त दूर दूर से वहां आ जाते थे।
Aahuti (Hindi)
By
Price: $0.99 USD. Words: 3,480. Language: Hindi. Published: June 27, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
आनन्द ने गद्देदार कुर्सी पर बैठकर सिगार जलाते हुए कहा-आज विशम्भर ने कैसी हिमाकत की! इम्तहान करीब है और आप आज वालण्टियर बन बैठे। कहीं पकड़ गये, तो इम्तहान से हाथ धोएँगे। मेरा तो खयाल है कि वजीफ़ा भी बन्द हो जाएगा। सामने दूसरे बेंच पर रूपमणि बैठी एक अखबार पढ़ रही थी। उसकी आँखें अखबार की तरफ थीं; पर कान आनन्द की तरफ लगे हुए थे। बोली-यह तो बुरा हुआ। तुमने समझाया नहीं?
11 Vars Ka Samay (Hindi)
By
Price: $0.99 USD. Words: 5,510. Language: Hindi. Published: June 27, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
दिन-भर बैठे-बैठे मेरे सिर में पीड़ा उत्‍पन्‍न हुई : मैं अपने स्‍थान से उठा और अपने एक नए एकांतवासी मित्र के यहाँ मैंने जाना विचारा। जाकर मैंने देखा तो वे ध्‍यान-मग्‍न सिर नीचा किए हुए कुछ सोच रहे थे। मुझे देखकर कुछ आश्‍चर्य नहीं हुआ; क्‍योंकि यह कोई नई बात नहीं थी। उन्‍हें थोड़े ही दिन पूरब से इस देश मे आए हुआ है। नगर में उनसे मेरे सिवा और किसी से विशेष जान-पहिचान नहीं है;
Maurice, le chat perdu
By
Price: Free! Words: 3,330. Language: English. Published: June 27, 2014. Category: Fiction » Literature » Literary
Cats! Murder! Madness! This experimental piece of ‘found fiction’ is a mash-up of 26 works by other authors, from Alden to Zola.
Path Ke Davedar (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 80,560. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
अपूर्व के मित्र मजाक करते, ''तुमने एम. एस-सी. पास कर लिया, लेकिन तुम्हारे सिर पर इतनी लम्बी चोटी है। क्या चोटी के द्वारा दिमाग में बिजली की तरंगें आती जाती रहती हैं?'' अपूर्व उत्तर देता, ''एम. एस-सी. की किताबों में चोटी के विरुध्द तो कुछ लिखा नहीं मिलता। फिर बिजली की तरंगों के संचार के इतिहास का तो अभी आरम्भ ही नहीं हुआ है। विश्वास न हो तो एम. एस-सी. पढ़ने वालों से पूछकर देख लो।''
Dehati Samaj (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 44,190. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
बाबू वेणी घोषाल ने मुखर्जी बाबू के घर में पैर रखा ही था कि उन्हें एक स्त्री दीख पड़ी, पूजा में निमग्न। उसकी आयु थी, यही आधी के करीब। वेणी बाबू ने उन्हें देखते ही विस्मय से कहा, 'मौसी, आप हैं! और रमा किधर है?' मौसी ने पूजा में बैठे ही बैठे रसोईघर की ओर संकेत कर दिया। वेणी बाबू ने रसोईघर के पास आ कर रमा से प्रश्‍न किया - 'तुमने निश्‍चय किया या नहीं, यदि नहीं तो कब करोगी?' रमा रसोई में व्यस्त थी।
Nirmala (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 63,980. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
यों तो बाबू उदयभानुलाल के परिवार में बीसों ही प्राणी थे, कोई ममेरा भाई था, कोई फुफेरा, कोई भांजा था, कोई भतीजा, लेकिन यहां हमें उनसे कोई प्रयोजन नहीं, वह अच्छे वकील थे, लक्ष्मी प्रसन्न थीं और कुटुम्ब के दरिद्र प्राणियों को आश्रय देना उनका कत्तव्य ही था। हमारा सम्बन्ध तो केवल उनकी दोनों कन्याओं से है, जिनमें बड़ी का नाम निर्मला और छोटी का कृष्णा था। अभी कल दोनों साथ-साथ गुड़िया खेलती थीं।
Prema (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 42,610. Language: Hindi. Published: June 26, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
संध्या का समय है, डूबने वाले सूर्य की सुनहरी किरणें रंगीन शीशो की आड़ से, एक अंग्रेजी ढंग पर सजे हुए कमरे में झॉँक रही हैं जिससे सारा कमरा रंगीन हो रहा है। अंग्रेजी ढ़ंग की मनोहर तसवीरें, जो दीवारों से लटक रहीं है, इस समय रंगीन वस्त्र धारण करके और भी सुंदर मालूम होती है। कमरे के बीचोंबीच एक गोल मेज़ है जिसके चारों तरफ नर्म मखमली गद्दोकी रंगीन कुर्सियॉ बिछी हुई है।
I'd Never Been Shot for Real Before
By
Price: $0.99 USD. Words: 5,160. Language: English. Published: June 25, 2014. Category: Fiction » Literature » Literary
I’d Never Been Shot for Real Before takes readers through a post-9/11 world of sex clubs, bankruptcy cubicle farms and guns that definitely go off. This blackly comic short story will be a favourite for fans of Please, Peter Darbyshire’s award-winning and critically acclaimed first book.
Pratigya (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 27,850. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
देवकी - 'जा कर समझाओ-बुझाओ और क्या करोगे। उनसे कहो, भैया, हमारा डोंगा क्यों मझधार में डुबाए देते हो। तुम घर के लड़के हो। तुमसे हमें ऐसी आशा न थी। देखो कहते क्या हैं।' देवकी - 'आखिर क्यों? कोई हरज है?' देवकी ने इस आपत्ति का महत्व नहीं समझा। बोली - 'यह तो कोई बात नहीं आज अगर कमलाप्रसाद मुसलमान हो जाए, तो क्या हम उसके पास आना-जाना छोड़ देंगे? हमसे जहाँ तक हो सकेगा, हम उसे समझाएँगे ...
Karmabhumi (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 129,270. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
हमारे स्कूलों और कॉलेजों में जिस तत्परता से फीस वसूल की जाती है, शायद मालगुजारी भी उतनी सख्ती से नहीं वसूल की जाती। महीने में एक दिन नियत कर दिया जाता है। उस दिन फीस का दाखिला होना अनिवार्य है। या तो फीस दीजिए, या नाम कटवाइए, या जब तक फीस न दाखिल हो, रोज कुछ जुर्माना दीजिए। कहीं-कहीं ऐसा भी नियम है कि उसी दिन फीस दुगुनी कर दी जाती है, और किसी दूसरी तारीख को दुगुनी फीस न दी तो नाम कट जाता है।
Gaban (Hindi)
By
Price: $2.99 USD. Words: 108,000. Language: Hindi. Published: June 25, 2014 by Sai ePublications. Category: Fiction » Literature » Literary
बरसात के दिन हैं, सावन का महीना । आकाश में सुनहरी घटाएँ छाई हुई हैं । रह - रहकर रिमझिम वर्षा होने लगती है । अभी तीसरा पहर है ; पर ऐसा मालूम हों रहा है, शाम हो गयी । आमों के बाग़ में झूला पड़ा हुआ है । लड़कियाँ भी झूल रहीं हैं और उनकी माताएँ भी । दो-चार झूल रहीं हैं, दो चार झुला रही हैं । कोई कजली गाने लगती है, कोई बारहमासा । इस ऋतु में महिलाओं की बाल-स्मृतियाँ भी जाग उठती हैं ।
Man from the Sky
By
Price: $2.99 USD. Words: 30,790. Language: English. Published: June 25, 2014 by Bacon Press Books. Category: Fiction » Adventure » General
Would you risk your life for a strangers? For 73-year-old Jaime the answer takes him by surprise when Stefan lands in his backyard. As they dodge Parisian drug dealers and corrupt Mallorcan police, Jaime's search for excitement and Stefan's resolve to find stability lead them both down dangerous paths.
Saturday Haircuts, Tuesday Funeral
By
Price: $0.99 USD. Words: 2,970. Language: English. Published: June 23, 2014. Category: Fiction » Young adult or teen » Literary
Daniel Tompkins remembers scenes of the weekend after his mother died when he was 13 years old.
Гран Виа (Български / Bulgarian)
By
Price: $2.99 USD. Words: 25,380. Language: Bulgarian. Published: June 22, 2014. Category: Fiction » Literature » Literary
„Гран Виа” ще ви захвърли в близкото бъдеще. Тук Любомир Николов е в свои води, защото знае да създава светове, а не само да ги описва. Героите са непредсказуеми и запомнящи се. Тяхната неудържимост, брутална жизненост и дребни престъпления грабват вниманието, а наситеният език с малко думи казва повече. „Гран Виа” е роман зареден с идеи.