ललका गुलाब

हम स्नातक स्वामी देवानंद डिग्री कॉलेज लार देवरिया से हिंदी, समाजशास्त्र से कइले बानी। गोपालगंज के महाकवि राधामोहन चौबे "अंजन जी" से 2014 में मिलनी त भोजपुरी लिखे पढ़े में रूचि बढ़ल आ गोपालगंज के मुशहरी से "सुभाष पाण्डेय" गुरु जी" से मिल के भोजपुरी लिखे के प्रेरणा मिलल, अउरी जय भोजपुरी-जय भोजपुरिया परिवार के बहुत प्यार-दुलार मिलेला ।
वर्तमान में हम सऊदी अरब में मेकेनिकल टेक्नीशियन के नोकरी करतानी। More

Available ebook formats: epub mobi pdf lrf pdb txt html

First 20% Sample: epub mobi (Kindle) lrf more Online Reader
Words: 4,870
Language: Hindi
ISBN: 9780463033012
About वर्जिन साहित्यपीठ

सम्पादक के पद पर कार्यरत

Also by This Author

Reviews

This book has not yet been reviewed.
Report this book