दादा भगवान

Where to find दादा भगवान online


Where to buy in print


Books

सहजता
Price: Free! Words: 56,330. Language: Hindi. Published: February 9, 2019 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Self-realization, Nonfiction » Self-improvement » Motivation & inspiration
मोक्ष किसे कहते हैं? खुद के शुद्धात्मा पद को प्राप्त करना उसे |दादाश्रीने हमें खुद के शुद्ध स्वरुप का परिचय कराया(आत्मज्ञान दिया) | प्रस्तुत पुस्तक में दादाश्री ने ज्ञाता-द्रष्टा रहकर सहजता किस प्रकार प्राप्त करें इन सभी का संपूर्ण विज्ञान दिया हैं |
आप्तवाणी-१४(भाग -१)
Price: Free! Words: 96,610. Language: Hindi. Published: February 9, 2019 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening, Nonfiction » Self-improvement » Religion & self-improvement
प्रस्तुत पुस्तक में आत्मा के गुणधर्म का स्पष्टिकरण किया गया हैं | पुस्तक को दो भागों में विभाजित किया गया हैं | इसपहले भाग में ब्रम्हाण्ड के छ: अविनाशीतत्वों का वर्णन, विशेषभाव (मैं)और अहंकार की उत्पति के कारणों का खुलासा किया हैं |
ज्ञानी पुरुष 'दादा भगवान' (भाग-१)
Price: Free! Words: 154,640. Language: Hindi. Published: February 9, 2019 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Biography » Religious biography, Nonfiction » Religion & Spirituality » Self-realization
प्रत्येक कालचक्र में बहुत से ज्ञानी तथा महान पुरुष जन्म लेते हैं, परन्तु उनकी आतंरिक ज्ञान दशा का रहस्य अभी भी गुप्त (अप्रगट) ही रह जाता हैं | प्रस्तुतग्रंथ“ज्ञानी पुरुष” में परम पूज्य दादा भगवान की ज्ञानदशा के पहले के विविध प्रसंग और उनकी विचक्षण जीवनशैली सहित अद्भुत द्रश्यो का तादृष्य, यहाँ विस्तार पूर्वक जानने को मिलता हैं |इस पवित्र ग्रंथ का अध्ययन करके‘ज्ञानी पुरुष’ के जीवन-दर्शन का अद्भुत सफ़
आप्तवाणी श्रेणी-९
Price: Free! Words: 156,570. Language: Hindi. Published: February 7, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening, Nonfiction » Self-improvement » Religion & self-improvement
ज्ञानीपुरुष बताते हैं कि काम-क्रोध-लोभ-मोह-अहंकार और छलकपट ही मोक्ष की राह के कांटे हैं और बंधन के कारण हैं। जब इन समस्त विकारों पर पूर्ण विजय प्राप्त की जाएगी तभी मुक्ति मिलेगी। इस पुस्तक में परम पूज्य दादाश्री ने अत्यंत सुंदर, हृदयग्राही तरीके से मोक्ष मार्ग में आनेवाली बाधाएँ तथा उनके निवारण के बारे में बताया है जिससे आध्यात्मिक साधक इन सबसे ऊपर उठकर मुक्ति प्राप्त कर सकें।
सेवा-परोपकार
Price: Free! Words: 11,340. Language: Hindi. Published: January 20, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening, Nonfiction » Self-improvement » Personal Growth / General
जो व्यक्ति खुद के आराम और सुविधाओं के आगे औरो की ज़रूरतों को रखता है वह जीवन में कभी भी दुखी नहीं होता|हमे यह लक्ष्य हमेशा अपने जीवन में सबसे ऊपर रखना चाहिए की, जो कोई भी व्यक्ति हमे मिले, उसे कभी निराश होकर जाना ना पड़े|
समझ से प्राप्त ब्रह्मचर्य (पूर्वार्ध) (In Hindi)
Price: Free! Words: 126,430. Language: Hindi. Published: January 19, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening
प्रस्तुत पुस्तक में विपरीत लिंग के प्रति होते आकर्षण के इफेक्ट और कॉज़ का वर्णन किया हैं |यह बताया है कि विषय-विकार किस प्रकार से जोखमी हैं - वे मन और शरीर पर किस तरह विपरित असर डालते हैं और कर्म बंधन करवाते हैं|
आप्तवाणी-१३ (पूर्वार्ध) (In Hindi)
Price: Free! Words: 170,500. Language: Hindi. Published: January 18, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening
आत्मार्थियों ने आत्मा से संबंधित अनेक बातें अनेक बार सुनी होंगी, पढ़ी भी होंगी लेकिन उसकी अनुभूति, वह तो एक गुह्यत्तम चीज़ है! आत्मानुभूति के साथ-साथ पूर्णाहुति की प्राप्ति के लिए अनेक चीज़ों को जानना ज़रूरी है, जैसे कि प्रकृति का साइन्स, पुद्गल (जो पूरण और गलन होता है) को देखना-जानना, कर्मों का विज्ञान, प्रज्ञा का कार्य, राग-द्वेष, कषाय, आत्मा की निरालंब दशा, केवलज्ञान की दशा...
आप्तवाणी-८
Price: Free! Words: 107,310. Language: Hindi. Published: January 18, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening, Nonfiction » Self-improvement » Religion & self-improvement
सारे आध्यात्मिक शास्त्रों, उपदेशों और क्रियाओं का सार एक ही है –खुद को जानना| जो हम स्वयं हैं वह पूर्ण शुद्ध है, लेकिन ‘मैं कौन हूँ’ की धारणा गलत है। इस पुस्तक में यह गलत धारणा ज्ञानीपुरुष द्वारा दूर की गई है।
आप्तवाणी-७
Price: Free! Words: 108,050. Language: Hindi. Published: January 18, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Self-improvement » Personal Growth / General
ज्ञानीपुरुष के जीवन के अलग-अलग घटनाओं का प्रस्तुत पुस्तक में वर्णन किया गया है उनमें से कई हमें विचलित कर दे ऐसे हैं| ज्ञानीपुरुष जीवन के सामान्य से सामान्य घटनाओं को भी असाधारण दृष्टि और समझ से देखते हैं|
आप्तवाणी-६
Price: Free! Words: 71,490. Language: Hindi. Published: January 17, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening, Nonfiction » Self-improvement » Religion & self-improvement
‘अटकण’ की वजह से हम अनंत जन्मो से भटक रहे है|हकीकत में खुद के पास आत्मा का परमानंद है, परंतु दैहिक सुखों की अटकणों में डूब गए है| यह अटकण ज्ञानीपुरुष की कृपा से टूट सकती है|यह जगत जैसा है वैसा है|उसमें हमे ‘खुद’ की सेफ साइड ढूँढ निकालनी है|
आप्तवाणी-५
Price: Free! Words: 57,920. Language: Hindi. Published: January 17, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Self-realization, Nonfiction » Self-improvement » Religion & self-improvement
संसार प्राकृतिक परिस्थितियों के प्रभाव से उत्त्पन्न परिणाम पर ही चलता है। ऐसी परिस्थिति में ‘मैं कर हूँ’ ऐसी गलत धारणा की उत्पत्ति होती है। इस कर्तापन की गलत धारणा की वजह से अगले जन्म के बीज बोए जाते हैं। अधिक जानने के लिए पढ़े..
आप्तवाणी-३
Price: Free! Words: 94,270. Language: Hindi. Published: January 16, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening
इस पुस्तक में आत्मा के गुणों के बारे में बताया है। क्लेश रहित जीवन कैसे जीएँ इसकी चाबी दी है तथा यह भी बताया है कि सही सोच से परिवार में बिना दुखी हुए कैसे व्यव्हार करें| इस पुस्तक का अध्ययन करके जीवन में उतारने से जीवन हमेशा के लिए आनंदमय हो जाएगा।
आप्तवाणी-२
Price: Free! Words: 161,660. Language: Hindi. Published: January 16, 2017 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Religion & Spirituality » Spiritual awakening
जिसे छूटना ही है उसे कोई बाँध नहीं सकता और जिसे बंधना ही है उसे कोई छुड़वा नहीं सकता! आंतरिक विज्ञान का और वीतराग विज्ञान का ज्ञानार्क अधिक जानने के लिए प्रस्तुत पुस्तक पढ़े|
गुरु-शिष्य
Price: Free! Words: 46,050. Language: Hindi. Published: June 24, 2016 by Dada Bhagwan Aradhana Trust. Categories: Nonfiction » Religion & Spirituality » Religion & Science, Nonfiction » Self-improvement » Personal Growth / General
गुरु को समर्पित होने के बाद पूरी ज़िंदगी उनके प्रति वफादार होकर, उनकी आज्ञा के अनुसार साधना करनी होती है। गुरु, सदगुरु और ज्ञानीपुरुष–तीनों के बिच का एक्ज़ेक्ट स्पष्टीकरण और सच्चे गुरु - शिष्य के लक्षण इस पुस्तक में बताए है|

दादा भगवान's tag cloud